Breaking News

छात्रा पर आग लगाने की घटना पर उबाल, आरोपित को फांसी की सजा की मांग

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देहरादून। हेनब केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय के पौड़ी परिसर की छात्रा के ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगाने की घटना से छात्र-छात्रओं में उबाल है। घटना से गुस्साए परिसर के छात्र-छात्रएं सोमवार को सड़कों पर उतर आए। आक्रोशित छात्र-छात्रओं ने आरोपित को फांसी की सजा दिलाने और छात्रा का सरकारी खर्चे पर इलाज कराने की मांग को लेकर कलक्ट्रेट के बाहर नारेबाजी की। बाद में प्रशासन का पुतला फूंक प्रदर्शनकारी धरने पर बैठ गए। इस दौरान कलेक्ट्रेट के बाहर कुछ देर के लिए वाहनों की आवाजाही भी बाधित रही।

गत रविवार सायं पौड़ी परिसर में द्वितीय वर्ष की छात्रा प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से गांव लौट रही थी। आरोप है कि इसी बीच आरोपित कफोलस्यूं पट्टी के गहड़ गांव निवासी मनोज ने उसका पीछा किया। सुनसान स्थान पर छात्रा से छेड़छाड़ की कोशिश की। विरोध करने पर मनोज ने छात्रा पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाने का प्रयास किया। गंभीर हालत में छात्रा को ऋषिकेश एम्स में भर्ती कराया गया है। साथी छात्रा के साथ हुई घटना से छात्र-छात्रएं स्तब्ध हैं। सोमवार को कलक्ट्रेट पर एकत्र हुए छात्र-छात्रओं का कहना था कि छात्रा से हुई घटना से हर कोई आहत है।

छात्रों ने कहा कि इस वारदात ने पहाड़ की शांत वादियों को शर्मसार कर दिया है। ऐसे में आरोपित को फांसी की सजा से कम क्षमा योग्य नहीं है। गुस्साए छात्र-छात्रओं ने विरोध स्वरुप कलक्ट्रेट के बाहर जमकर नारेबाजी की और धरने पर बैठ गए। चेतावनी दी कि उनकी मांगों पर अमल न हुआ तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान अपर जिलाधिकारी ने आंदोलित छात्र-छात्रओं से वार्ता की, लेकिन वे मांगों पर अडिग रहे। काफी देर तक नारेबाजी के बीच छात्रों की दूरभाष से क्षेत्रीय विधायक मुकेश कोली से भी वार्ता हुई। देर शाम छात्र-छात्रओं ने धरना स्थगित किया। इस मौके पर छात्र संघ अध्यक्ष अरविंद नैथानी, नितिन रावत, गौरव सागर, दीपक रावत, आशीष नेगी, सोनी, अर्शी कुरेशी, भारत भूषण, सिमरन भंडारी आदि शामिल थे।

आरोपित को भेजा जेल

छात्रा के ऊपर पेट्रोल डालकर जलाने के आरोपित मनोज को रविवार रात ही पुलिस ने पकड़ लिया था। इस मामले में राजस्व उप निरीक्षक को छात्रा की दादी ने तहरीर दी थी। राजस्व पुलिस ने आरोपित मनोज के खिलाफ जानलेवा हमला, छेड़छाड़ और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद सोमवार को पुलिस ने आरोपित को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।

सरकार उठाएगी इलाज का खर्चा

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कफोलस्यूं पट्टी क्षेत्र की एक युवती पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगाने की घटना पर गहरा दुख जताया है। मुख्यमंत्री ने छात्रा के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना भी की है। दूरभाष पर सीएम को जिलाधिकारी सुशील कुमार ने बताया कि छात्रा 70 प्रतिशत आग से झुलस गई है। मुख्यमंत्री ने डीएम से कहा कि युवती के इलाज का पूरा खर्चा प्रदेश सरकार वहन करेगी। मुख्यमंत्री ने आरोपित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं।

सरकार पीड़ित छात्रा को देगी हरसंभव मदद: रेखा आर्य

पौड़ी के कफोलस्यूं में रविवार को एक छात्रा पर एक सिरफिरे ने पेट्रोल डालकर जला दिया था। श्रीनगर से छात्र को ऋषिकेश एम्स में लाया गया है। छात्रा का हाल जानने महिला एवं बाल कल्याण राज्यमंत्री रेखा आर्य जब यहां पहुंची तो उत्तराखंड की स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर लेकर छात्रा के परिजनों का गुस्सा और दर्द एक साथ छलका। राज्यमंत्री रेखा आर्य ने कहा कि सरकार पीड़ित परिवार के साथ हैं। सरकार पीड़िता को हरसंभव आर्थिक सहायता देगी।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती पौड़ी की छात्रा का हाल जानने सोमवार की शाम महिला एवं बाल कल्याण राज्यमंत्री रेखा आर्य पहुंची। मंत्री के यहां पहुंचने पर छात्र के परिजनों और शुभचिंतकों ने उनके समक्ष उत्तराखंड की स्वास्थ सेवाओं को लेकर सवालों की झड़ी लगा दी। परिजनों ने उनसे बेहतर उपचार और सहायता के साथ आरोपित को सजा दिलाने की मांग की।

राज्य मंत्री ने एम्स के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. ब्रह्म प्रकाश से आवश्यक जानकारी लेने के बाद एम्स के निदेशक प्रोफेसर रविकांत से भी बातचीत की। महिला एवं बाल कल्याण राज्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड जैसे राज्य के लिए छात्रा के साथ हुई यह घटना बेहद गंभीर और निंदनीय है। जिसे लेकर कानून अपना काम करेगा। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड अपराध सहायता कोष से छात्र के परिवार को मदद के लिए जिला कार्यक्रम अधिकारी ने अपनी संस्तुति पत्र भेज दिया है। राज्य सरकार पीड़िता के परिवार के साथ खड़ी है। सरकार अधिक से अधिक मुआवजा इस परिवार को दिलाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में न्यायालय ने दो से सात लाख तक के मुआवजे की व्यवस्था की है। इस मामले में न्यायालय जो भी तय करेगा मदद की जाएगी।

पीड़िता का तत्काल दिल्ली में हो इलाज 

मसूरी में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने पौड़ी में पेट्रोल छिड़ककर आग लगाए जाने से गंभीर हुई लड़की को एयर एंबुलेंस से तत्काल दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजने का मुख्यमंत्री से आग्रह किया है। किशोर ने लड़की का पूरा इलाज सरकारी खर्च पर करने का अनुरोध भी किया है। सोमवार को मसूरी पहुंचे किशोर उपाध्याय ने पत्रकार वार्ता में कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। आम आदमी अपने आप को असहाय महसूस कर रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *